क्यों आखिर में हमारा मन गेम खेलने की तरफ आकर्षित होता है

क्यों आखिर में हमारा मन गेम खेलने की तरफ आकर्षित होता है

क्यों आखिर में हमारा मन गेम खेलने की तरफ आकर्षित होता है
क्यों आखिर में हमारा मन गेम खेलने की तरफ आकर्षित होता है

आज मैं आपको बताऊंगा क्यों हमारा मन आखिर में गेम खेलने की तरफ आकर्षित होता है| यदि मैं आपको कोई ऐसा ऐप डाउनलोड करके दो जो कि ऑनलाइन गेम हो और आप फोन में एक बार खेलोगे तो हमारा मन बार-बार उस गेम को खेलने का क्यों करता है| देखो एक है उपयोगिता क्या नियम यह इकोनॉमिक्स का बहुत ही ज्यादा और फेमस टॉपिक है| इस टॉपिक के हिसाब से होता क्या है एक्चुअल में एक व्यक्ति किसी चीज को पहले बार में जब इस्तेमाल करता है

तो उसको बहुत मजा आता है| लेकिन जब वह व्यक्ति अगले बार उस चीज का इस्तेमाल करता है तो उसको पहले से थोड़ा कम मजा आता है| और यही मेरे वेबसाइट पर एक सब्सक्राइब अनेक कमेंट करके मेरे से पूछा और मेरे से कहा कि भाई साहब यह बताइए जब उपयोगिता का नियम कहता है कि अगली बार हम जिस चीज का इस्तेमाल कर लेते हैं तो हर बार उसका इस्तेमाल करने की क्षमता कम होती जाती है|

चलो ठीक है यानी कि एक बार मैंने गेम खेला लेकिन अगले बारी में जब मैं गेम खेल लूंगा तो मैं पहले से थोड़ा कम मजा लूंगा| लेकिन उन्होंने मेरे से सवाल पूछा है कि आखिर में ऐसा क्यों होता है जब हम एक बार गेम खेलते हैं तो अगली बार और ज्यादा मन गेम खेलने का करता है|

गेम को खेलना शुरू करते हो तो उसको अगली बारी में जो खेलने की आपकी क्षमता है वह तो कम होती है

मैं आपको एक बात बहुत ध्यान से बताता हूं जब आप किसी गेम को खेलना शुरू करते हो तो उसको अगली बारी में जो खेलने की आपकी क्षमता है वह तो कम होती है| लेकिन आपका मन गेम खेलने का काम नहीं होता| उदाहरण के लिए जब भी हम कुछ करने का काम सोचते हैं या करते हैं तो इस पर हमारे शहर की दो एक्टिविटी अहम भूमिका निभाती है| नंबर वन होता है हमारे शरीर और नंबर दो होता है हमारा मन| यानी कि हमारा शरीर और हमारा मन ही इस में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है| अब होता यह है जब आप गेम खेलते हो तो आपका शरीर तो थक जाता है लेकिन जो आपका मन होता है वह आपका नहीं थकता और उसकी हवस बढ़ती जाती है|

यही एक मुख्य कारण होता है जिसकी वजह से आपको गेम खेलने की लत लग जाती है| और इससे हमें जल्द से जल्द छुटकारा पाना है क्योंकि यह हमारे शरीर के लिए सही नहीं है| और यह हमारे फ्यूचर के लिए भी सही नहीं है| यदि आप भविष्य में बड़े लक्ष्य रखते हो और आप कुछ बड़ा करना चाहते हो तो आप हो अभी से इन सब बातों को छोड़ना होगा| जितनी जल्दी आप इन गलत आदतों को छोड़ दोगे उतनी जल्दी ही आप अपने फ्यूचर में अच्छा काम करने में कामयाब बन जाओगे| उदाहरण के लिए आप ने निर्णय लिया|

कि आपको कुछ बड़ा लक्ष्य पूरा करना है लेकिन यदि आप गेम खेलते हो और गेम खेलने की आदत बना लेते हो तो आप उस लक्ष्य को जल्द ही भूल जाओगे| ऐसा इसलिए होगा क्योंकि आपने अपने शरीर को लक्ष्य को पूरा करने के लिए डाल रखा है| यदि आपने अभी से निर्णय ले लिया है कि आपको जीवन में कुछ बड़ा करके दिखाना है तो आपको अभी से अच्छा डिसीजन लेना होगा| क्योंकि यह सबसे बड़ा मुद्दा हमारे सामने यही आता है कि हमको भविष्य में क्या अच्छा करना चाहिए|

अच्छी आदतें आपको सीखनी पड़ती हैं लेकिन बुरी आदते आपको सीखने नहीं पड़ती वह आपको अपने आप ही आ जाते हैं

मुझे पता है आपको यह बात समझ में नहीं आई होगी इसलिए मैं आपको इसको सही तरीके से समझाने का प्रयास करता हूं| आपका जो शरीर होता है वह भौतिक स्थिति से जुड़ा हुआ होता है यानी कि जो आपका शरीर है वह भौतिक है| यदि आपको पता होगा कि पानी और आग को यदि आप एक करना चाहो तो वह कभी नहीं होंगे लेकिन यदि आप मन और दिमाग को एक करना चाहो तो कुछ प्रयास के बाद वह एक हो सकते हैं| जो इंसान अपने दिमाग और मन पर काबू कर सकता है वही इंसान कामयाब हो सकता है| अब आपको सफलता का मंत्र तो मिल गया लेकिन यदि आप अपने दिमाग और मन को कामयाब करना चाहते हो तो वह कैसे होगा|

पहले तो आप को समझना होगा कि जो आपका शरीर होता है वह आलस्य से दोस्ती करना पसंद करता है| यानी कि कोई आपको ₹100000000 दे और कहे कि आपको सिर्फ औरतें दुकान पर बैठकर ऐसे के अभाव में बैठे रहना है और आपको पानी तक उठकर नहीं पहना है आपको पानी भी पीने के लिए दे दिया जाएगा| तो आप ऐसे जॉब को करना पसंद करोगे क्योंकि आपको यहां पर इतनी सारी फैसिलिटी मिल रही है|

फैसिलिटी बढ़ती जा रही है जिसकी वजह से इंसानों को कई प्रकार की नई नई बीमारियां हो रही हैं

जैसा कि हम जान रहे हैं कि आने वाले समय में फैसिलिटी बढ़ती जा रही है जिसकी वजह से इंसानों को कई प्रकार की नई नई बीमारियां हो रही हैं| और इन बीमारियों से बचने के लिए इंसान कई प्रकार के उपाय कर रहा है लेकिन वह किसी में भी सफल नहीं हो पा रहा है| अब आपको सोचना है कि आप अपने दिमाग को किस प्रकार से स्वच्छ और सुरक्षित रख सकते हो|

और यदि आप जीवन में बड़े लक्ष्य को हासिल करना चाहते हो तो वह आपको अपने गेम खेलने की लत को छोड़ना होगा| एक तरफ गेम खेलने से आपको मनोरंजन मिलता है आपको कई प्रकार के निराशाजनक स्थितियों से बाहर निकलने का मौका मिलता है| लेकिन यदि आप गेम को ज्यादा खेलते हो तो इससे आपको अपने लक्ष्य को पूरा करने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है| तो आपको सोच लेना चाहिए कि आपको क्या करना सही होगा|

Conclusion

मेरी बात मानिए आप इस पोस्ट को अपने सभी फ्रेंड के साथ शेयर जरूर करें| क्योंकि मैंने इस पोस्ट में उन सभी आंसर स्कोर देने का प्रयास करा है जो मेरे कमेंट के द्वारा पूछे गए हैं| आप इस पोस्ट को अपने सभी फ्रेंड के साथ जरूर शेयर करें और उनको बताएं कि वह गेम को खेलने से किस प्रकार से फायदा उठा रहे हैं और किस प्रकार से अपने बड़े लक्ष्य को हासिल ना कर पाने की समस्या को बढ़ा रहे हैं| गेम खेलना बुरा नहीं है लेकिन ज्यादा गेम खेलना बहुत बुरा है|

Related Post

भारत में त्योहारों के महत्व जानकर आप हैरान हो जाओगे

हमें पोस्टिक आहार ही क्यों लेना चाहिए

लक्ष्य हासिल करने के लिए हमें क्या करना चाहिए

क्या हमें ज्यादा सुविधाओं के साथ रहना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

हमें पोस्टिक आहार ही क्यों लेना चाहिए

Wed Jul 21 , 2021
हमें पोस्टिक आहार ही क्यों लेना चाहिए आज के समय में लोग कई प्रकार के भोजन खाते हैं लोग सड़कों पर भी खा लेते हैं […]
हमें पौष्टिक आहार ही क्यों लेना चाहिए